आज कन्याकुमारी से होगी कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा की शुरुआत, राहुल ने राजीव गांधी को दी श्रद्धांजलि

आज कन्याकुमारी से होगी कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा की शुरुआत, राहुल ने राजीव गांधी को दी श्रद्धांजलिआज कन्याकुमारी से होगी कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा की शुरुआत, राहुल ने राजीव गांधी को दी श्रद्धांजलि..

आज कन्याकुमारी से होगी कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा की शुरुआत, राहुल ने राजीव गांधी को दी श्रद्धांजलि
आज कन्याकुमारी से होगी कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा की शुरुआत, राहुल ने राजीव गांधी को दी श्रद्धांजलि

कांग्रेस आज से भारत जोड़ो यात्रा का आगाज करने जा रही है। पार्टी के पूर्व अध्यक्ष और वायनाड से सांसद राहुल गांधी श्रीपेरंबदुर पहुंच चुके हैं। यात्रा की शुरुआत करने से पहले राहुल गांधी ने राजीव गांधी मेमोरियल पहुंचकर अपने पिता को श्रद्धांजलि दी। बता दें कि मिशन 2024 से पहले कांग्रेस इस बड़ी पद यात्रा के जरिए पार्टी में नई जान फूंकने के प्रयास में जुट गई हैं। भारत जोड़ो यात्रा 12 राज्य और 2 केंद्र शासित प्रदेशों से होकर गुजरेगी। हर दिन 21 किमी पैदल चलकर 150 दिन में 3 हजार 570 किमी की दूरी तय कर यात्रा कश्मीर पहुंचेगी।

राहुल गांधी अपने पिता को श्रद्धांजलि देने के साथ ही कन्याकुमारी में एक कार्यक्रम में हिस्सा लेंगे जहां तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एम के स्टालिन उन्हें राष्ट्र ध्वज सौंपेंगे। कन्याकुमारी में ‘गांधी मंडपम’ में कार्यक्रम के दौरान स्टालिन भी मौजूद रहेंगे, जिसके बाद राहुल गांधी कांग्रेस के अन्य नेताओं के साथ उस सार्वजनिक रैली स्थल पर जाएंगे जहां से यात्रा की औपचारिक शुरुआत होगी।

कन्याकुमारी से श्रीनगर की 3,570 किलोमीटर लंबी यात्रा की औपचारिक शुरुआत रैली में होगी, मगर वास्तव में गांधी और कई अन्य कांग्रेस नेता आठ जनवरी को सुबह सात बजे ‘पदयात्रा’ की शुरुआत करेंगे।

पदयात्रा 11 सितंबर को केरल पहुंचेगी और अगले 18 दिनों तक राज्य से होते हुए 30 सितंबर को कर्नाटक पहुंचेगी। यात्रा कर्नाटक में 21 दिनों तक रहेगी और उसके बाद उत्तर की ओर अन्य राज्यों में जाएगी।

इस यात्रा को लेकर पार्टी महासचिव जयराम रमेश ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘भारत जोड़ो यात्रा किसी तरह की मन की बात नहीं है। यह जनता की चिंता है। जनता की जो चिंता है, जनता जो मांग कर रही है उसे दिल्ली तक पहुंचाना इस यात्रा का मकसद है। लंबे भाषण नहीं होंगे, हम लोगों को सुनने जा रहे हैं।’’

उन्होंने कहा, ‘‘जिन राज्यों से 'भारत जोड़ो यात्रा' गुजर नहीं रही है, वहां भी 'भारत जोड़ो यात्रा' की ‘सहायक यात्रा’ नकाली जाएगी, यह यात्रा 75 किलोमीटर से 100 किलोमीटर तक होगी।’’ रमेश ने यह भी कहा कि राहुल गांधी इस यात्रा का नेतृत्व नहीं कर रहे हैं, बल्कि वह 118 अन्य ‘भारत यात्रियों’ के साथ इसमें शामिल हो रहे हैं।