दीपक हत्याकांड: बागपत पुलिस ने  फैमीद और आसिफ को 10 घंटे की रिमांड पर लेकर क्राइम सीन दोहराया

Welcome to Kalam Kartvya - मेरठ में चर्चित मर्डर दीपक त्यागी की हत्या के मामले में जेल भेजे आरोपी फैमीद नट और आसिफ को बागपत पुलिस ने 10 घंटे की रिमांड पर लेकर शनिवार को क्राइम सीन दोहराया गया है। पुलिस का दावा है कि अवैध संबंध के चलते दीपक की हत्या की गई। हत्या में दोनों ही शामिल थे और फैमीद नट की पत्नी फरमीना घटनास्थल पर मौजूद थीं।  दीपक त्यागी हत्याकांड की जांच कर रही बागपत एसआईटी ने आरोपी फैमीद की पत्नी फरमीना को गिरफ्तार कर घंटों पूछताछ की। टीम के मुताबिक फरमीना ने बताया कि दीपक उनके घर पर आता था और उनकी विवाहिता बेटी को ससुराल से बुलवाने की जिद करता था। आरोप हैं कि दीपक धमकी देते थे कि अगर उन्होंने अपनी बेटी को नहीं बुलाया तो वह उसकी ससुराल में जाकर बखेड़ा कर देगा। परीक्षितगढ़ के खजूरी गांव निवासी किसान धीरेंद्र त्यागी उर्फ भगतजी के बेटे दीपक त्यागी की 27 सितंबर को हत्या हुई थी। बिना सिर के शव मिलने पर पीड़ित परिवार और ग्रामीणों में आक्रोश था। सात दिन बार कटा हुआ सिर आरोपी फैमीद नट और आसिफ की निशानदेही पर बरामद हुआ था। पीड़ित परिवार ने पुलिस के खुलासे पर सवाल उठाकर हंगामा किया था। फैमीद नट के घर से लेकर जंगल तक क्राइम सीन दोहराया गया। बाद में पुलिस ने दोनों को कोर्ट में पेश कर जेल भेज दिया। पहले आसिफ और फिर फैमीद ने किए थे वार  पुलिस के मुताबिक दीपक पर पहले तलवार से आसिफ ने वार दिया था। आसिफ से गला नहीं कटा तो फिर फैमीद ने उससे तलवार लेकर दीपक का गला काट दिया। रिमांड के दौरान आरोपियों से खून से सना कपड़ा भी बरामद किया है। अवैध संबंध की बात पर नाराज पीड़ित परिवार दीपक हत्याकांड में अवैध संबंध का कारण पुलिस ने खुलासे में बताया है। जिसको लेकर दीपक के पिता धीरेंद्र त्यागी उर्फ भगतजी ने नाराजगी जताई थी। उनका कहना है कि बेटे को बदनाम करने की मंशा से पुलिस ने यह मनगढ़ंत कहानी बनाई है। - By Kalam Kartvya.

दीपक हत्याकांड: बागपत पुलिस ने  फैमीद और आसिफ को 10 घंटे की रिमांड पर लेकर क्राइम सीन दोहराया
Welcome to Kalam Kartvya -
मेरठ में चर्चित मर्डर दीपक त्यागी की हत्या के मामले में जेल भेजे आरोपी फैमीद नट और आसिफ को बागपत पुलिस ने 10 घंटे की रिमांड पर लेकर शनिवार को क्राइम सीन दोहराया गया है। पुलिस का दावा है कि अवैध संबंध के चलते दीपक की हत्या की गई। हत्या में दोनों ही शामिल थे और फैमीद नट की पत्नी फरमीना घटनास्थल पर मौजूद थीं। 

दीपक त्यागी हत्याकांड की जांच कर रही बागपत एसआईटी ने आरोपी फैमीद की पत्नी फरमीना को गिरफ्तार कर घंटों पूछताछ की। टीम के मुताबिक फरमीना ने बताया कि दीपक उनके घर पर आता था और उनकी विवाहिता बेटी को ससुराल से बुलवाने की जिद करता था। आरोप हैं कि दीपक धमकी देते थे कि अगर उन्होंने अपनी बेटी को नहीं बुलाया तो वह उसकी ससुराल में जाकर बखेड़ा कर देगा।

परीक्षितगढ़ के खजूरी गांव निवासी किसान धीरेंद्र त्यागी उर्फ भगतजी के बेटे दीपक त्यागी की 27 सितंबर को हत्या हुई थी। बिना सिर के शव मिलने पर पीड़ित परिवार और ग्रामीणों में आक्रोश था। सात दिन बार कटा हुआ सिर आरोपी फैमीद नट और आसिफ की निशानदेही पर बरामद हुआ था। पीड़ित परिवार ने पुलिस के खुलासे पर सवाल उठाकर हंगामा किया था।

फैमीद नट के घर से लेकर जंगल तक क्राइम सीन दोहराया गया। बाद में पुलिस ने दोनों को कोर्ट में पेश कर जेल भेज दिया।
पहले आसिफ और फिर फैमीद ने किए थे वार 
पुलिस के मुताबिक दीपक पर पहले तलवार से आसिफ ने वार दिया था। आसिफ से गला नहीं कटा तो फिर फैमीद ने उससे तलवार लेकर दीपक का गला काट दिया। रिमांड के दौरान आरोपियों से खून से सना कपड़ा भी बरामद किया है।
अवैध संबंध की बात पर नाराज पीड़ित परिवार
दीपक हत्याकांड में अवैध संबंध का कारण पुलिस ने खुलासे में बताया है। जिसको लेकर दीपक के पिता धीरेंद्र त्यागी उर्फ भगतजी ने नाराजगी जताई थी। उनका कहना है कि बेटे को बदनाम करने की मंशा से पुलिस ने यह मनगढ़ंत कहानी बनाई है।
- By Kalam Kartvya.